Tuesday, 21 March 2017

WorldPoetryDay

कविताएं ज़िन्दगी के विभिन्न रसों से रूबरू करवाती है इनमें कलम की ख़ामोशी ही नहीं बल्कि मदहोश वक़्त, मौसम, वियोग, दर्द और रिश्तों को महसूस किया जा सकता है।
विश्व कविता दिवस पर सभी कवियों और कविता प्रेमियों को शुभकामनाएं
#WorldPoetryDay

छोटे से इस जीवन में चलती रहती धूप छाँव की छुप्पन छुपाई
बताओ ऐसी कौनसी रात है जो सुबह होते ही ढल न पायी.
सारा जीवन यू ही बीता चला जाता है वक़्त की छुप्पन छुपाई में !
#DhunZindagiKi
#DhunKavitaKi 

No comments:

Post a Comment