Sunday, 26 March 2017

Poetry Recitals Shaam-e-Mahfil

जब होती है धुन कविता की तो शब्दों की इस दुनिया का एक अलग ही अहसास होता है।
शब्दों के समंदर में डूब जाने को मन करता है
जी हां दोस्तों एक ऐसा प्लेटफॉर्म द पोएट्री रिसाइटल्स जहाँ शब्दों के सागर में गोता लगातें हैं नये ज़माने के कवि
अगर आप भी है कविता प्रेमी तो हो जाइए रेडी
क्योंकि 2 अप्रैल को सजेगी महफिल डिग्गी पैलेस जयपुर में
जहां शब्द गुज़रेंगे कांधे को छूतें हुए। समां बंधेगा शाम-ऐ-महफिल में
शब्दों का सौन्दर्य आवाज़ के माध्यम से और जब आवाज़ हो शहर के जाने माने आरजे रविन्द्र की तो बात ही कुछ और .....
अनुज पारीक
धुन कविता की
DhunZindagiKi




Shaam-e-Mahfil २
2 April 2017
Time - 7 to 8 pm
Venue - Diggi Palace, Jaipur 

No comments:

Post a Comment