Monday, 28 November 2016

man ki bat 27 November 2016


MAN KI BAAT 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी नोटबंदी के बाद आज पहली बार ‘मन की बात’ कार्यक्रम में देश को संबोधित किया। कार्यक्रम में मोदी ने कहा कि इस बार मैंने दिवाली पर चीन की सीमा पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मनाई। 500 और एक हजार के नोट के बंद करने के अपने फैसले का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पूरा विश्व हमें इस उम्मीद से देख रहा है कि क्या हम इसमें सफल होंगे। लेकिन हम सवा सौ करोड़ देशवासी इसे सफल करके ही रहेंगे। उन्होंने कहा कि लेस कैश की आदत डालिए तो कैशलेस सोसायटी अपने आप बनेगी।

पांच सौ और हजार के नोट के बैन पर की बात:- 

इस बार जब मैंने ‘मन की बात’ के लिये लोगों के सुझाव मांगे, तो मैं कह सकता हूं कि एकतरफा ही सबके सुझाव आए, सब कहते थे कि 500 और 1000 रुपये वाले नोटों पर और विस्तार से बातें करें। मैंने सबसे कहा था कि निर्णय सामान्य नहीं है, कठिनाइयों से भरा है। निर्णय लेने से ज्यादा कठीन है इसे लागू करना। इससे निकलने में 50 दिन लग ही जाएंगे। तब जाकर हम इससे निकल पाएंगे। 70 साल से हम जिस बीमारी को झेल रहे थे, इसके बाद हम इससे निकल जाएंगे।

आपकी पेरशानियों को मैं समझता हूं। भ्रमित करने के प्रयास चल रहे हैं फिर भी देशहित की इस बात को आपने स्वीकार किया है। कभी-कभी मन को विचलित करने वाली घटनायें सामने आते हुए भी, आपने सच्चाई के इस मार्ग को भली-भांति समझा है।

पूरा विश्व उम्मीद से देख रहा है:- 

500 और 1000 के नोट के चलन से बाहर होने के फैसले को पूरा विश्व इसे देख रहा है। सभी लोग सोच रहे हैं क्या इसमें सफल होंगे क्या। लेकिन सवा सौ करोड़ देशवासी इसे सफल करके ही रहेंगे। इसका कारण आप हैं। इस सफलता का मार्ग ही आप हैं।

सभी बैंककर्मियों को सराहा:- 

केंद्र सरकार, राज्य सरकार एक लाख तीस हजार बैंक, उनके कर्मचारी, पोस्ट ऑफिस सभी इसमें जुटे हुए हैं। सभी लोग इसे देशहीत में मानकर काम शुरू करते हैं। सुबह से शाम तक इसमें जुटे रहते हैं। इससे ये साबित होता है कि ये सफल होगा।

खंडवा में एक बुजुर्ग इंसान का एक्सीडेंट हो गया। बैंककर्मी को जब ये मालूम चला तो उनके जाकर मदद पहुंचाई। ऐसे कई कहानियां हैं जो मीडिया और अखबारों में आती रहती हैं।

जनधन योजना के दौरान सभी बैंककर्मी ने जो एक जुटता दिखाई थी वहीं एक बार फिर वे इसे सच कर दिखाएंगे। कई लोगों को लगता है कि इसके बावजूद वे अपने कालेधन को ठीकाने लगा लेंगे। इसके लिए भी उनलोगों ने गरीबों का इस्तेमाल कर रहे हैं। मैं ऐसे लोगों से कहना चाहता हूं कि आप गरीबों की जिंदगी के साथ न खेलें। आप ऐसा न करें कि गरीब का नाम आए जाए और जब जांच हो तो आपक नाम आए।



MAKE IN INDIA



The Make In India investment destination and a global hub for manufacturing , design and innovation by encouraging both multinational as well as domestic companies to manufacture their products within the Country.
By launching of the 'Make IN iNDiA' 
Initiative in September 2014 , Government has set up a target to increase the contribution of manufacturing sector 16% of GDP currently to 25% by 2025.
It is a major national initiative designed to facilities investment;
Foster Investment;
Enhance Skill Development;
Protect Intellectual Property , 
And build best In Class manufacturing Infrastructure.

Modi's Make In India ' is not only making India economically independent , self sufficient and self-sustaining  (Swadeshi) but extending beyond it with progressive outlook of making India 
Economically Vibrant and Global 
Manufacturing hub to creat surplus 
For exporting with ascent of support from overseas countries by inviting them to setup manufacturing base in India through Investment, Technology transfer etc. 

                 MAKE IN INDIA

Sunday, 27 November 2016

Digital India

The VISION of Digital India Programme is to transform India into a digitally empowered society and knowledge economy.
Digital India is an ambitious programme of government of India Projected at Rs 1,13,000 Crores .
The Digital India Vision provides the intensified impetus for further momentum and progress for
 e -Governance and would promote inclusive growth that covers electronic services, products, devices, Manufacturing and job Opportunities .
Make In India 
Digital India 

Wednesday, 16 November 2016

About Dhun Zindagi Ki

Dhun Zindagi Ki 
Will Provide Motivational Content , Stories , Poetry Article On Current Issues & much more Content in Hindi.
Keep Reading & Keep Visiting 
http://dhunzindagiki.blogspot.com
Contact Us at 
dhunzindagiki@gmail.com
+91-9587610005 
If you have any query or want to ask any question about DhunZindagiKi then feel free to Contact 
You Can Use Below form to Contact Us 
Keep Reading & Keep Smiling 
DhunZindagiKi 
क्योकि ज़िन्दगी में किसी भी मुकाम को हासिल करने के लिए धुन का होना ज़रूरी है
Anuj Pareek 
Dhun Zindagi Ki

Tuesday, 15 November 2016

Mera Desh Badal raha hai / मेरा देश बदल रहा है आगे बढ़ रहा है




परिवर्तन संसार का सबसे बड़ा नियम है

Nothing is Permanent
Change is Permanent

जब बदलाव होते है तो कुछ नया तो होता ही है लेकिन जब नए के साथ अच्छा हो तो यानि बदलाव अच्छे है 
ब्लैक मनी सर्जिकल स्ट्राइक के बाद रिश्वतखोरो और कालेधन के भंडार वालो की खटिया ही खड़ी हो गयी है 
लेकिन इस पर विपक्षियों के बयान किसी चुटकले से कम नहीं आ रहे 
कोई लाइन में खड़ा होकर बोल रहा है जनता के दर्द को समझ रहा हूँ , तो कोई सरेआम दो हज़ार के नोट को जला रहा है 
क्यों कर रहे है ये सब यानि कारण साफ-साफ गोदाम भरे है इनके पास काले धन से .
देश में हो रहे इस बदलाव के लिए क्या आप इतना भी सहन नही कर सकते 
सिर्फ लाइन में लगने से परेशानी वो भी खुद की करेंसी चेंज कराने में
देश हित में सहयोग करे .. 
थोड़ा वक़्त लगेगा यक़ीनन परिणाम बहुत अच्छे आएंगे 
मेरा देश बदल रहा है आगे बढ़ रहा है 
जय हिन्द 

अनुज पारीक 
धुन ज़िन्दगी की #DhunZindagiKi

Saturday, 12 November 2016

अफवाहों पर ध्यान ना दे देश में नमक का उत्पादन जरूरत से अधिक - उद्योग व वाणिज्य मंत्रालय भारत सरकार

Namak Desh Ka - Dhun Zindagi Ki
देश में नमक का उत्पादन स्थानीय जरूरत से कहीं अधिक है और सभी जगह नमक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। नागरिकों से अनुरोध है कि बेबुनियाद अफवाहों पर ध्यान न दें और हड़बड़ी में अंधाधुन्द खरीद न करें।
 उद्योग व वाणिज्य मंत्रालय, भारत सरकार   

Wednesday, 9 November 2016

ईमानदार खुश बेईमान पुश उड़ गए तोते - Ud gaye tote - Anuj Pareek

ईमानदार खुश , बेईमान पुश  😟😞 उड़ गए तोते


चाय की थड़ी पे दोस्तों के साथ गप शप तो करते ही है या फिर ऑफिस में लंच टाइम में अपने कलीग्स से देश , राजनीती , भ्रष्टाचार और भी कई ऐसे मुद्दे  जो हमारे लिए चर्चा का विषय होते है चाय की चुस्कियों के साथ सब अपने विचार रखते है .
आईडिया कैसा भी हो .
आज से ठीक 4-5 साल पहले हमने भी इधर की सुनी तो जा दोस्ती को बोली 
यार अगर 500 और 1000  के नोट बंद कर दिए जाये तो 
क्या हो ????
धुंवा उड़ाते उड़ाते प्यारेलाल भी बोल उठा भाई काले धन पे लगाम लग जाएगी
तभी एक और आवाज़ आई लेकिन ऐसा हो पाना मुश्किल है 
इन्ही शब्दो के साथ और धुवों के आखिरी कश के साथ नोटों वाली बात को भी उड़ा दिया

लेकिन जब ये ख़बर सुनी  आज आधी रात से 500 और 1000 के नोट बंद 
तो एक बार के लिए तो यकीं नही हुआ तभी हमारे दोस्त का भी फ़ोन आ गया भाई आज बहुत खुश हूँ  मेने पूछा भाई हुआ क्या 
बता तो सही क्या बात है ..
पूछ मत अब से पहले ईमानदार होने की ख़ुशी आज तक नहीं थी .
यार प्यारे साफ़ साफ़ बोल 
भाई मोदी सरकार का एलान 500  और हज़ार के नोट आज से बंद एक पल को लगा प्यारे भी बोखला उठा है .
हमने फ़ोन रखा टेलीविज़न चालू किया तो आज की बड़ी ख़बर 
खुद ही के मुह पर पानी  मारा .
फेसबुक ट्विटर चेक किया तो धड़ाधड़
पोस्ट, शेयर 
फिर से फ़ोन की घंटी बजी फ़ोन पे प्यारेलाल भाई मैं तो खुश हू  ख़ुशी के मारे आज २ पेग एक्स्ट्रा 
मैं  हँसने लगा आखिर ख़ुशी तो मुझे भी थी 
मेने प्यारे से पूछा भाई एक बात बता जब एक बार को मुझे यकीं नही हुआ तो उन लोगो को तो बुरा सपना लगा होगा 
प्यारे बोलता है भाई तोते उड़ गए भाई तोते  खैर जो भी ये एलान वाकई उन लोगो के लिए तोते उड़ाने वाला था 
फिर से प्यारे का फ़ोन भाई सेलिब्रेट करते है आज .
हां प्यारे तभी उठाई कलम और लिख डाली दिल की बात 
प्रधान मंत्री महोदय को दिल से सल्यूट 
जय हिन्द 
Anuj Pareek 
Dhun Zindagi Ki